Mahak Vishnoi
mahakvishnoi.sslocallive@gmail.com
17/02/2020 | 11:04: AM
धार्मिक / धार्मिक | 49

भगवान शिव का अनोखा मंदिर जहां स्वयं सूर्य देव की किरणे महादेव के शिवलिंग पर तिलक करती हैं

the unique temple of lord shiva where the rays of the sun god himself tilak on the lingam of mahadev


भारत में भगवान शिव के अनेको अद्भुत एवं अत्यंत प्रचीन मंदिर हैं, जो भक्तो के लिए हमेशा से श्रद्धा के केंद्र  बने हुए है। इन्हीं मंदिरों में से एक भगवान शिव का अनोखा मंदिर दक्षिण बंगलूर के गवीपुरम में स्थित है। जहां स्वयं सूर्य देव की किरणे महादेव के शिवलिंग पर तिलक करती हैं। इस अद्भुत महिमा को देखने के लिए दुनिया भर से श्रद्धालु  इस मंदिर में आते हैं तथा यह अत्यंत प्राचीन मंदिर माना जाता है।

                                                                           

भगवान शिव के इस मंदिर को गवीपुरम गुफा तथा गवि गंगाधरेश्वर मंदिर  के नामों से पुकार जाता है। इस मंदिर को इस प्रकार से बनाया गया है कि प्रत्येक वर्ष एक खास मौके पर सूर्य की रोशनी मंदिर के गर्भगृह में रखे शिवलिंग  पर पड़ती है। मकर संक्रांति के अवसर पर इस मंदिर में भक्तों का जमावड़ा लगा रहता है। क्योंकि यही वह दिन होता जब सूर्य देव अपनी किरणों द्वारा महादेव के शिवलिंग पर तिलक  करते हैं।

                                                                                  

 सूर्य की रोशनी भगवान शिव की सवारी नंदी बैल के सींगो से होकर सीधे शिवलिंग पर पड़ती है, यह रोशनी शिवलिंग पर करीब एक घंटे तक पड़ती है। इस दिन सूर्य उत्तरायण  दिशा की ओर होता है। यह दुर्लभ नजारा प्रतिवर्ष मकर संक्रांति को ही देखा जा सकता है। इस अद्भुत दृश्य को देख हम यह अनुमान लगा सकते हैं कि हमारे प्राचीन मूर्तिकार खगोल विद्या व वास्तुशिल्प के ज्ञाता कितने अधिक जानकार थे। यह केवल भगवान शिव के तीर्थ स्थल  के लिए ही प्रसिद्ध नहीं बल्कि यहां अग्नि देव की भी एक दुलभ प्रतिमा स्थापित है, जिसे देखने भक्त यहां आते हैं। 

                                                                       

भगवान शिव का मंदिर गवी गंगाधरेश्वर गुफा एक स्मारक है, जो पुरातात्विक स्थल, अवशेष अधिनियम 1951 तथा कर्नाटक प्राचीन व ऐतिहासिक धरोहर के रूप में संरक्षित है। गवीपुरम गुफा मंदिर भगवान शंकर और गवी गंगाधरेश्वर को समर्पित है तथा सूर्य की किरणों का शिवलिंग पर पड़ने वाले अद्भुत दृश्य के कारण बंगलूर शहर में आकर्षण का कारण बना हुआ है। मंडप और गुफा की खिड़कियों से आती हुई सूर्य की रोशनी इस अनूठे और अद्भुत दृश्य का निर्माण करती है, जो ऐसा प्रतीत होता है कि सूर्यदेव शिवलिंग पर तिलक  कर रहे हों। यह मंदिर काफी हद तक शहर के अंर्तगर्त आता है इसलिए पर्यटकों को यहां पहुंचने में कोई परेशानी नहीं होती।



SS Local Live पत्री पाने के लिए अपना ईमेल आईडी यहाँ डाले|



सम्बंधित समाचार

ताज़ातरीन खबरें