Rashi Saxena
rashisaxena.sslocallive@gmail.com
11/12/2019 | 12:29: PM
खेल / मुक्केबाजी | 126

दक्षिण एशियाई खेलों में 300 पदकों के करीब पहुंचा भारत, पहलवानों ने किया सूपड़ा साफ

India reaches close to 300 medals in South Asian Games, wrestlers clean sweep


दक्षिण एशियाई खेलों में 300 पदकों के करीब पहुंचा भारत, पहलवानों ने किया सूपड़ा साफ

भारत ने 13वें दक्षिण एशियाई खेलों के समापन के एक दिन पहले मुक्केबाजी में छह स्वर्ण के बूते सोमवार को यहां अपने पदकों की संख्या 300 के करीब पहुंचा दी। प्रतिस्पर्धा के आठवें दिन भारतीय खिलाड़ियों ने 27 स्वर्ण, 12 रजत और तीन कांस्य सहित 42 पदक जीते। 


भारत के कुल पदकों की संख्या 294 (159 स्वर्ण, 91 रजत और 44 कांस्य) हो गई, जिससे वह तालिका मे शीर्ष पर काबिज है। नेपाल 195 पदक (49 स्वर्ण, 54 रजत और 92 कांस्य) से दूसरे और श्रीलंका 236 पदक (39 स्वर्ण, 79 रजत और 118 कांस्य) से तीसरे स्थान पर है।

भारत को प्रतियोगिता के आखिरी दिन मुक्केबाजी के सात स्पर्धाओं में लेना है भाग 

भारत को प्रतियोगिता के आखिरी दिन मुक्केबाजी के सात स्पर्धाओं में भाग लेना है, ऐसे में गुवाहाटी के 309 पदकों का रिकॉर्ड टूटना मुश्किल है। भारत हालांकि एक बार फिर 300 पदकों की संख्या को पार करेगा। 


सोमवार को भारत को सबसे ज्यादा पदक मुक्केबाजी में मिले। पुरुष वर्ग में राष्ट्रीय चैंपियन अंकित खटाना (75 किग्रा) और उदीयमान कलाइवानी श्रीनिवासन (48 किग्रा) के अलावा विनोद तंवर (49 किग्रा), सचिन (56 किग्रा) और गौरव चौहान (91 किग्रा) ने भी सोने के तमगे जीते, जबकि महिला वर्ग में परवीन (60 किग्रा) ने भी स्वर्ण पदक जीता।विश्व चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता मनीष कौशिक को हालांकि रजत पदक से संतोष करना पड़ा। गौरव बालियान (पुरुष, 74 किग्रा) और अनिता शेरोन (महिला, 68 किग्रा) ने कुश्ती में भारत को दो और स्वर्ण दिलाए। 


भारत ने कुश्ती में 14 स्वर्ण पदक जीतकर अपने अभियान का किया समापन

भारत ने कुश्ती में 14 स्वर्ण पदक जीतकर अपने अभियान का समापन किया। सैग खेलों में कुश्ती की 20 स्पर्धाएं थीं, लेकिन नियमों के मुताबिक कोई भी देश 14 से अधिक स्पर्धा में भाग नहीं ले सकता। ऐसे में भारत ने पुरुष और महिला वर्ग के सात-सात वर्ग में हिस्सा लिया और सभी में स्वर्ण पदक जीतने में सफल रहा।


तलवारबाजी में भी भारतीय खिलाड़ी सोमवार को तीनों स्वर्ण जीतने में सफल रहे। पुरुष फोइल टीम स्पर्धा के साथ महिला टीम ने ईपी और साबेर स्पर्धाओं में शीर्ष पर रही। भारत ने कबड्डी और बास्केटबॉल तीन गुणा तीन में भी सूपड़ा साफ किया जहां पुरुषों और महिलाओं की दोनो वगरें की टीमों ने स्वर्ण जीता।भारतीय महिला फुटबॉल टीम ने मेजबान नेपाल को 2-0 से हराकर लगातार तीसरी बार स्वर्ण पदक जीता। 


भारतीय जीत की नायिका एक बार फिर से स्ट्राइकर बाला देवी रहीं, जिन्होंने दोनों हाफ में एक-एक गोल किया। मणिपुर की 29 साल की यह खिलाड़ी टूर्नामेंट की शीर्ष स्कोरर रहीं। उन्होंने चार मैचों में पांच गोल किए। निशानेबाजी में अनुराज सिंघा और श्रवण कुमार की भारतीय जोड़ी ने मिक्स्ड एअर पिस्टल स्पर्धा में स्वर्ण पदक हासिल किया। निशानेबाजी में भारत ने 18 स्वर्ण, सात रजत और चार कांस्य पदक अपने नाम किए।



SS Local Live पत्री पाने के लिए अपना ईमेल आईडी यहाँ डाले|



सम्बंधित समाचार

ताज़ातरीन खबरें