Mahak Vishnoi
mahakvishnoi.sslocallive@gmail.com
03/01/2020 | 01:25: PM
धार्मिक / धार्मिक | 33

अद्भुत है पर्वत पर बसा तुंगनाथ मंदिर, बर्फबारी का भी ले सकते हैं मजा

tungnath temple situated on the mountain is amazing you can enjoy the snowfall too

 

सोचिए जरा किसी ऐसी जगह के बारे में जहां पर आप बर्फबारी का भी मजा ले सकें और अध्यातत्मि से भी रूबरू हो सके। तो आज हम आपको ऐसी ही जगह के बारे में बताने जा रहे हें जहां पहुंचकर आपको लगेगा की जन्न  कहीं है तो बस यहीं।तुंगनाथ उत्तहराखंड के गढ़वाल के रुद्रप्रयाग जिले में स्थित एक पर्वत है। इसी पर्वत पर स्थित है तुंगनाथ मंदिर। यह भोलेनाथ के पंच केदारों में से एक है।

                                                                       

मंदिर का निर्माण पाण्डवों ने भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए करवाया था। इसके पीछे एक कथा भी है कि कुरुक्षेत्र में हुए नरसंहार से भोलेनाथ पाण्डवो से रुष्ट  थे तभी उन्हें प्रसन्न  करने के लिए ही इस मंदिर का निर्माण किया गया था। इसके अलावा यह भी मान्यता है कि माता पार्वती ने भी शिव को पाने के लिए यहीं पर तपस्या  की थी।

                                                                       

तुंगनाथ मंदिर के आसपास नवंबर के बाद से ही बर्फ का सुंदर नजारा दिखने लगता है। जहां तक नजरें जाती हैं वहां तक मखमली घास ,पर्वत और आसपास बर्फ देखकर लगता है कि जैसे बर्फ की चादर बिछी हो। यह नजारा इस जगह को और भी ज्याबदा खूबसूरत बना देता है।
मई से नवंबर तक कभी भी तुंगनाथ के दर्शनों के लिए जा सकते हैं। लेकिन जनवरी और फरवरी का समय यहां पर लोगों को काफी पसंद आता है। इस दौरान यहां पर खूब बर्फ होती है। ’तुंगनाथ’ के दर्शन करने के लिए ऋषिकेश से गोपेश्वोर होकर चोपता जाना होगा। इसके बाद ’तुंगनाथ’ के लिए स्थादनीय साधन मिल जाते हैं। इसके अलावा दूसरा रास्ता ऋषिकेश से ऊखीमठ होकर जाता है। ऊखीमठ से भी चोपता जाना होगा उसके बाद ’तुंगनाथ’ मंदिर के लिए साधन मिल जाते हैं।



SS Local Live पत्री पाने के लिए अपना ईमेल आईडी यहाँ डाले|



सम्बंधित समाचार

ताज़ातरीन खबरें